सरसों खल और सरसों भाव , बिनौला तेल में तेजी कौनसी फसल कब लेगी उछाल देखे रिपोर्ट

सरसों खल और सरसों भाव ,बिनौला तेल में तेजी कौनसी फसल कब लेगी उछाल उक्त समस्त जानकारी आज के इस लेख में प्रदत की गयी है खल का भाव , बिनोला तेल भाव और सरसों का भाव आगामी दिनों के अंदर कैसा रह सकता है इसकी चर्चा आज के उक्त इस लेख के अंदर की गयी है । सरसों का भाव कब बढ़ेगा 2023 ,सरसों खल का भाव , बिनोला तेल भाव समस्त जानकारी उक्त लेख में प्रदत की गयी है ।

सरसों खल का भाव-

सप्लाई घटने एवं पशु आहार वालों की मांग से सरसों खल के भाव 25/50 रुपये बढ़कर 2600/2800 रूपए प्रति क्विंटल हो गए। सरसों में आई तेजी के कारण लोकल मिलों में उत्पादन ठप्प हो गया है। हापुड़ मंडी में इसके भाव 3000/ 3050 रुपये प्रति क्विंटल बोले गए। जयपुर में बिकवाली घटने से इसके भाव 2600/2650 रुपए प्रति क्विंटल बोले गए। बाजार सीमित दायरे में घूमता रह सकता है।

सरसों का भाव कब बढ़ेगा 2023 sarson ka bhav

आवक कमजोर होने तथा तेल मिलों की मांग निकलने से लारेंस रोड पर सरसों के भाव 5550/5600 रुपए प्रति क्विंटल बोले गए। नजफगढ़ मंडी में लूज में इसके भाव 5000/5100 रुपए प्रति कुंतल बोले गए। जयपुर में बिकवाली घटने 42 प्रतिशत कंडीशन सरसों के भाव 5775 रुपए तथा आगरा मंडी में 6150 रुपए प्रति कुंतल बोले गए। देश की विभिन्न मंडियों में सरसों की आवक 4.75 लाख बोरी के लगभग की रही। आने वाले दिनों में इसमें मंदे की उम्मीद नहीं है। बाजार टिका रह सकता है।

बिनौला तेल का भाव क्या है ? बिनौला तेल में तेजी

आपूर्ति कमजोर होने एवं मांग बढ़ने के कारण हाल ही में बिनौला के भाव 450 रुपए प्रति कुंतल बढ गए, भविष्य में भी इसमें गिरावट की संभावना कम है। बिनौला तेल में तेजी के प्रमुख कारण भी है

आप सुधि पाठकों को समय-समय पर बिनौला तेल की तेजी मंदी के बारे में खबरें पढ़ने को मिलती रहती है इसी तारतम्य के अनुसार विदेशी तेलो में तेजी का रुख होने तथा रिफाइंड व वनस्पति घी निर्माताओं की मांग से जुलाई माह के दौरान बिनौला तेल के भाव 450 रूपये बढ़कर 9300 रुपए प्रति कुंतल हो गए। उल्लेखनीय है कि निचले स्तर से बिनौला तेल के भाव 1300 रुपए प्रति क्विंटल बढ गए। उक्त अविध के दौरान पंजाब की मंडियों में बिनौला के भाव 200 रुपए बढ़कर 3100/3400 रुपए प्रति कुंतल हो गए। रिफाइंड वालों की मांग से महाराष्ट्र की मंडियों में इसके भाव 300 रुपए बढ़कर 9850/9900 रुपए तथा कपास का उत्पादन हरियाणा, पंजाब, राजस्थान, महाराष्ट्र, गुजरात, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना इत्यादि राज्यों में होता है।

बिनौला में तेजी कब तक आएगी 2023

अनुकूल मौसम होने के कारण (सीजन के दौरान कपास की बिजाई के रकबा में मामूली गिरावट चालू आई है। देश में बिनौला की उपलब्धता बढ़ने की उम्मीद है। सामान्यतः बिनौले तेल का उत्पादन 13 लाख टन के आसपास होने की उम्मीद है। सरकार द्वारा खाद्य तेलों के महंगाई पर रोक लगाने के लिए समय समय पर आवश्यक क़दम उठाए जा रहे हैं। लेकिन हाल में आई अंतरराष्ट्रीय बाजार में खाद्य तेल के कीमतों में आए उछाल के कारण बाजार बढ़ गया है। नया माल आने में अभी काफी समय से है नया माल आने तक बाजार 400/500 रूपये उतार चढाव के बीच में घूमता रह सकता है।

Read Also This

आज का रामगंज मंडी भाव , धनिया का भाव और आवक आज फिर बढ़ी

Ganganagar mandi bhav today गंगानगर मंडी भाव 27-07-2023

त्यौहारी सीजन के चलते सरसों तेल सरसों खल और सरसों का भाव बढ़ा Sarson ka bhav

मसालों और ड्राई फ्रूट के दामों में और होगी बढ़ोतरी Dry fruits and spices rates

You cannot copy content of this page